गम गम गणेशा मूवी रिव्यू: आनंद देवरकोंडा की मजेदार और क्राइम ड्रामा फिल्म

गम गम गणेशा मूवी रिव्यू: आनंद देवरकोंडा की मजेदार और क्राइम ड्रामा फिल्म
Tarun Pareek
मनोरंजन 0 टिप्पणि
गम गम गणेशा मूवी रिव्यू: आनंद देवरकोंडा की मजेदार और क्राइम ड्रामा फिल्म

गम गम गणेशा मूवी रिव्यू: आनंद देवरकोंडा की मजेदार और क्राइम ड्रामा फिल्म

गम गम गणेशा एक मनोरंजक तेलुगु फिल्म है, जिसका निर्देशन उदय शेट्टी ने किया है और निर्माण केदार सेलागमसेट्टी और वामसी करुमांची ने किया है। इस फिल्म में आनंद देवरकोंडा, प्रगति श्रीवास्तव, नयन सरेका, करिश्मा, वेंनेला किशोर, सत्यम राजेश, जबरदस्त इमैनुएल और राज अर्जुन प्रमुख भूमिका निभा रहे हैं। फिल्म की कहानी गणेशा (आनंद देवरकोंडा) के इर्द-गिर्द घूमती है, जो अपने दोस्त शंकर (जबरदस्त इमैनुएल) के साथ छोटे मोटे चोरी करता है और एक उद्देश्यहीन जीवन जीता है। गणेशा का जीवन एक नाटकीय मोड़ लेता है जब वह श्रुति (नयन सरेका) से प्यार करने लगता है, जो एक सुपरमार्केट मालिक हर्षित (कृष्ण तेज) की बेटी है।

कहानी का रोमांच और मोड़

गणेशा का प्यार श्रुति के प्रति बढ़ता है और वह उससे शादी करने का मन बना लेता है। श्रुति से शादी करने के लिए, गणेशा एक डायमंड चोरी करने की योजना बनाता है जिसकी कीमत 7 करोड़ रुपये है। इस बीच, कहानी में एक नया ट्विस्ट आता है जब किशोर रेड्डी (राज अर्जुन), जो एक महत्वाकांक्षी राजनीतिज्ञ है, अपने चुनाव अभियान के लिए 100 करोड़ रुपये की जरूरत होती है।

किशोर रेड्डी गणेशा को डायमंड चोरी करने और इसे एक विनायक मूर्ति में छिपाने के लिए काम पर रखता है। यहीं से कहानी में नाटकीय मोड़ और मजेदार घटनाएं शुरू हो जाती हैं। गणेशा की योजनाएं बिगड़ जाती हैं और डायमंड और पैसों का खेल उलटफेर वाला होता है।

फिल्म का मुख्य आकर्षण

फिल्म की मुख्य विशेषता इसका हास्य और क्राइम तत्वों का मिश्रण है। फिल्म में हास्य का पुट और अनपेक्षित घटनाओं के चलते दर्शकों की दिलचस्पी बनी रहती है।

फिल्म में सभी कलाकारों ने बेहतरीन अभिनय किया है। आनंद देवरकोंडा ने गणेशा के किरदार को पूरी निष्ठा से निभाया है और उनके अभिनय की तारीफ करनी चाहिए। प्रगति श्रीवास्तव और नयन सरेका ने भी अपने-अपने किरदारों को अच्छे से निभाया है।

फिल्म का प्रोडक्शन और निर्देशन

फिल्म के निर्देशक उदय शेट्टी ने इस फिल्म की कहानी को बड़े ही कुशलता से निर्देशित किया है। उनकी दृष्टि और निर्देशन ने कहानी को रोमांचक और मनोरंजक बनाया है। निर्माताओं केदार सेलागमसेट्टी और वामसी करुमांची ने फिल्म के प्रोडक्शन वैल्यूज को उच्च स्तर पर रखा है।

फिल्म की छायांकन और संगीत भी उत्कृष्ट है, जिससे फिल्म का अनुभव और भी बेहतर हो जाता है। फिल्म की एडिटिंग और बैकग्राउंड स्कोर भी फिल्म की गति और भावनाओं को बनाए रखते हैं।

क्या फिल्म देखनी चाहिए?

अगर आप एक मजेदार और रोमांचक क्राइम ड्रामा फिल्म को देखना चाहते हैं, तो गम गम गणेशा आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकती है। फिल्म का हास्य और थ्रिलिंग प्लॉट दर्शकों को बांधे रखने में कामयाब होता है।

इस फिल्म को फैमिली के साथ बैठकर देखा जा सकता है और यह हर उम्र के दर्शकों को पसंद आएगी।

कुल मिलाकर, 'गम गम गणेशा' एक मनोरंजक फिल्म है जो दर्शकों का मनोरंजन करने में कामयाब होती है। इसका अनूठा कहानी और बेहतरीन अभिनय दर्शकों को अंत तक बांधे रखता है।

ऐसी ही पोस्ट आपको पसंद आ सकती है

  • गम गम गणेशा मूवी रिव्यू: आनंद देवरकोंडा की मजेदार और क्राइम ड्रामा फिल्म

    गम गम गणेशा मूवी रिव्यू: आनंद देवरकोंडा की मजेदार और क्राइम ड्रामा फिल्म

    गम गम गणेशा एक तेलुगु फिल्म है जिसका निर्देशन उदय शेट्टी ने किया है और निर्माण केदार सेलागमसेट्टी और वामसी करुमांची ने किया है। इस फिल्म में आनंद देवरकोंडा, प्रगति श्रीवास्तव, नयन सरेका, करिश्मा, वेंनेला किशोर, सत्यम राजेश, जबरदस्त इमैनुएल और राज अर्जुन मुख्य भूमिका में हैं। यह कहानी गणेशा (आनंद देवरकोंडा) के इर्द-गिर्द घूमती है, जो एक उद्देश्यहीन जीवन जीता है और अपने दोस्त शंकर (जबरदस्त इमैनुएल) के साथ छोटे मोटे चोरी करता है।

श्रेणियाँ