भारतवंशी इंजीनियर अशोक एलुस्वामी: टेस्ला AI में योगदान के लिए Elon Musk ने किया सराहना

भारतवंशी इंजीनियर अशोक एलुस्वामी: टेस्ला AI में योगदान के लिए Elon Musk ने किया सराहना
Tarun Pareek
टेक्नोलॉजी 0 टिप्पणि
भारतवंशी इंजीनियर अशोक एलुस्वामी: टेस्ला AI में योगदान के लिए Elon Musk ने किया सराहना

अशोक एलुस्वामी: एक परिचय

अशोक एलुस्वामी, जिन्हें हाल ही में टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने कंपनी की कृत्रिम बुद्धिमत्ता (AI) और ऑटोपायलट सॉफ्टवेयर के क्षेत्र में उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए सराहा है, आज चर्चाओं में हैं। अशोक एलुस्वामी एक भारत-वंशी रोबोटिक्स इंजीनियर हैं और उनकी इंजीनियरिंग यात्रा ने उन्हें टेस्ला तक पहुंचाया। टेस्ला के ऑटोपायलट टीम के पहले सदस्य होने का खिताब रखते हुए, उन्होंने एक महत्वपूर्ण पहचान बनाई है।

कर्मठता और प्रचार का संगम

एलन मस्क ने अपनी सोशल मीडिया पोस्ट पर विशेष रूप से आगाह किया कि अशोक एलुस्वामी और उनकी टीम के बिना टेस्ला एक साधारण कार निर्माता होती, जो किसी भी अन्य स्वायत्तता प्रदाता की तलाश में होती। एलुस्वामी के लिए यह प्रशंसा केवल प्रशंसा से कहीं अधिक है; यह उनकी मेहनत और ईमानदारी का प्रमाण है।

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा

अशोक एलुस्वामी का जन्म और परवरिश भारत के चेन्नई में हुई थी। उन्होंने वहां के प्रतिष्ठित कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, गुंडी से इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्युनिकेशन में बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग डिग्री प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने अमेरिका की प्रसिद्ध कार्नेगी मेलोन यूनिवर्सिटी से रोबोटिक्स सिस्टम डेवलपमेंट में उच्च शिक्षा हासिल की।

प्रोफेशनल यात्रा

प्रोफेशनल यात्रा

टेस्ला में शामिल होने से पहले, एलुस्वामी ने WABCO Vehicle Control Systems और Volkswagen जैसे जानी-मानी कंपनियों के साथ काम किया। उनके पास कम्प्यूटर विजन और पर्सेप्शन, प्लानिंग और कंट्रोल में गहरा ज्ञान है।

टेस्ला के साथ यात्रा

जब एलन मस्क ने ऑटोपायलट टीम के लिए उम्मीदवारों की तलाश में एक ट्वीट किया, तब एलुस्वामी की यात्रा टेस्ला के साथ शुरू हुई। मस्क की महत्वाकांक्षा और टेस्ला की विजन ने उन्हें अति उन्नत और नवाचारी विचारों को स्वीकार करने का अवसर दिया। एलुस्वामी ने 2021 में ऑटोपायल ट टीम के पहले सदस्य के रूप में इस चुनौती को स्वीकार किया और अब वह पूरे AI और ऑटोपायलट सॉफ्टवेयर का नेतृत्व करते हैं।

एलुस्वामी की प्रतिभा और योगदान

एलुस्वामी के महत्त्वपूर्ण प्रशंसा का मुख्य कारण उनकी समझ और एविस्पार्क की महारत है, जो टेस्ला को ऑटोनोमी के क्षेत्र में बाजार अग्रणी बनाती है। उनकी तकनीकी विशेषज्ञता, शैली, और टीम के प्रति उनकी प्रतिबद्धता ने टेस्ला को रोबोटिक्स और AI के क्षेत्र में उच्च स्थान पर खड़ा किया है।

एलन मस्क की प्रतिक्रिया

एलन मस्क की प्रतिक्रिया

मस्क ने अशोक एलुस्वामी को व्यक्तिगत रूप से सोशल मीडिया पर धन्यवाद दिया और उनकी टीम की कड़ी मेहनत की सराहना की। मस्क ने कहा कि टेस्ला की सफलता का प्रमुख सहारा एलुस्वामी जैसे कर्तव्यनिष्ठ इंजीनियर हैं, जो मेहनत, तकनीक की गहरी समझ और समर्पण के साथ कार्य करते हैं।

भविष्य की राह

अशोक एलुस्वामी के लिए यह सराहना एक बड़ी जिम्मेदारी भी है। उनके लिए यह दिखाने का मौका है कि कैसे एक भारतीय उत्पत्ति के इंजीनियर तकनीक और विज्ञान के क्षेत्र में नवीन उद्यम कर सकते हैं। उनके योगदान से प्रभावित होकर, कई युवा इंजीनियरों के लिए भी यह प्रेरणा का स्रोत बन गया है।

अशोक एलुस्वामी का समर्पण और टेस्ला के लिए उनका दृष्टिकोण न केवल उनकी बल्कि पूरी टीम की सफलता का कारण है। यह कहानी केवल एक व्यक्ति की नहीं है, बल्कि उन सभी के लिए प्रेरणा है जो कुछ बड़ा हासिल करने का सपना देखते हैं।

ऐसी ही पोस्ट आपको पसंद आ सकती है

श्रेणियाँ